शिल्पकार. Blogger द्वारा संचालित.

चेतावनी

इस ब्लॉग के सारे लेखों पर अधिकार सुरक्षित हैं इस ब्लॉग की सामग्री की किसी भी अन्य ब्लॉग, समाचार पत्र, वेबसाईट पर प्रकाशित एवं प्रचारित करते वक्त लेखक का नाम एवं लिंक देना जरुरी हैं.
स्वागत है आपका

गुगल बाबा

इंडी ब्लागर

 

हिन्दी दिवस पर अर्पित हैं चंद फूलों की कलियाँ


हिन्दी दिवस पर अर्पित हैं चंद फूलों की कलियाँ
कुछ गांव का अल्हड़पन कुछ गांव की गलियां
कुछ हिमालयी पीर दुष्यन्ति कुछ फूल जयशंकरी
कुछ लहरें मन उमंग की कुछ फूलों की डलियाँ
फूल बहुत थे जो बाग़ में खिलने आए थे
कुछ और भी थे जो धुप में जलने आए थे
कुछ सर चढ़े कुछ गलहार भी बनाये गये
कुछ ऐसे भी थे जो धूल में मिलने आए थे
जब सुबह-सुबह तुम्हारी बात होती है
मुझ पर नेमतों की बरसात होती है
दिन ढल जाता है तेरी यादों के सहारे
पर हर रात क़यामत की रात होती है
शाम थी जो सारी रात रोती रही
निशा से मिलने तरसती रही
ओस की बूदें सेज पर टपकती थी
आँखें सावन सी सतत बरसती रही
नित मैं एक बंजारे सा भटकता हूँ
नित पावस के पपीहे सा तडफता हूँ
ये आरजू रख कर तुम्हारे दीदार की
नित यूँ ही चन्द्रकला सा घटता हूँ
आज सावन की पहली बरसात हुयी
तन-मन भीगा स्नेह की बरसात हुयी
क्यूँ ना छलका तुम्हारे प्रीत का साग़र
चारों और देखो झमाझम बरसात हुयी
आपका
शिल्पकार
(फोटो गूगल से साभार)

Comments :

7 टिप्पणियाँ to “हिन्दी दिवस पर अर्पित हैं चंद फूलों की कलियाँ”
Anil Pusadkar ने कहा…
on 

अच्छा लिखा आपने।

A desk of An Artisan ने कहा…
on 

धन्यवाद अनील भाई आपका स्नेह ही हमारी अक्षय पूंजी है.

Nirmla Kapila ने कहा…
on 

पूरी रचना लाजवाब है लेकिन ये पँक्तियाँ सब से अच्छी लगी
हिन्दी दिवस पर अर्पित हैं चंद फूलों की कलियाँ
कुछ गांव का अल्हड़पन कुछ गांव की गलियां
कुछ हिमालयी पीर दुष्यन्ति कुछ फूल जयशंकरी
कुछ लहरें मन उमंग की कुछ फूलों की डलियाँ
बहुत बहुत बधाई

HEY PRABHU YEH TERA PATH ने कहा…
on 

अच्छा लिखा आपने।
आज तो मजा आ गया हिन्दी- हिन्दी - हिन्दी वन डे मैच जैसा माहोल , अच्छा लग रहा है, क्यो कि आई लव हिन्दी,

आप को हिदी दिवस पर हार्दीक शुभकामनाऍ।


पहेली - 7 का हल, श्री रतन सिंहजी शेखावतजी का परिचय

हॉ मै हिदी हू भारत माता की बिन्दी हू

हिंदी दिवस है मै दकियानूसी वाली बात नहीं करुगा-मुंबई टाइगर

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…
on 

कल 14/09/2012 को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

hridyanubhuti ने कहा…
on 

बेहद खुबसूरत रचना !
हिंदी दिवस की अनंत शुभकामनाएँ ...

वन्दना ने कहा…
on 

हिंदी-दिवस पर सुन्दर प्रस्तुति

हिन्दी ना बनी रहो बस बिन्दी
मातृभाषा का दर्ज़ा यूँ ही नही मिला तुमको
और जहाँ मातृ शब्द जुड जाता है
उससे विलग ना कुछ नज़र आता है
इस एक शब्द मे तो सारा संसार सिमट जाता है
तभी तो सृजनकार भी नतमस्तक हो जाता है
नही जरूरत तुम्हें किसी उपालम्भ की
नही जरूरत तुम्हें अपने उत्थान के लिये
कुछ भी संग्रहित करने की
क्योंकि
तुम केवल बिन्दी नहीं
भारत का गौरव हो
भारत की पहचान हो
हर भारतवासी की जान हो
इसलिये तुम अपनी पहचान खुद हो
अपना आत्मस्वाभिमान खुद हो …………

 

लोकप्रिय पोस्ट

पोस्ट गणना

FeedBurner FeedCount

यहाँ भी हैं

ईंडी ब्लागर

लेबल

शिल्पकार (94) कविता (65) ललित शर्मा (56) गीत (8) होली (7) -ललित शर्मा (5) अभनपुर (5) ग़ज़ल (4) माँ (4) रामेश्वर शर्मा (4) गजल (3) गर्भपात (2) जंवारा (2) जसगीत (2) ठाकुर जगमोहन सिंह (2) पवन दीवान (2) मुखौटा (2) विश्वकर्मा (2) सुबह (2) हंसा (2) अपने (1) अभी (1) अम्बर का आशीष (1) अरुण राय (1) आँचल (1) आत्मा (1) इंतजार (1) इतिहास (1) इलाज (1) ओ महाकाल (1) कठपुतली (1) कातिल (1) कार्ड (1) काला (1) किसान (1) कुंडलियाँ (1) कुत्ता (1) कफ़न (1) खुश (1) खून (1) गिरीश पंकज (1) गुलाब (1) चंदा (1) चाँद (1) चिडिया (1) चित्र (1) चिमनियों (1) चौराहे (1) छत्तीसगढ़ (1) छाले (1) जंगल (1) जगत (1) जन्मदिन (1) डोली (1) ताऊ शेखावाटी (1) दरबानी (1) दर्द (1) दीपक (1) धरती. (1) नरक चौदस (1) नरेश (1) नागिन (1) निर्माता (1) पतझड़ (1) परदेशी (1) पराकाष्ठा (1) पानी (1) पैगाम (1) प्रणय (1) प्रहरी (1) प्रियतम (1) फाग (1) बटेऊ (1) बाबुल (1) भजन (1) भाषण (1) भूखे (1) भेडिया (1) मन (1) महल (1) महाविनाश (1) माणिक (1) मातृशक्ति (1) माया (1) मीत (1) मुक्तक (1) मृत्यु (1) योगेन्द्र मौदगिल (1) रविकुमार (1) राजस्थानी (1) रातरानी (1) रिंद (1) रोटियां (1) लूट (1) लोकशाही (1) वाणी (1) शहरी (1) शहरीपन (1) शिल्पकार 100 पोस्ट (1) सजना (1) सजनी (1) सज्जनाष्टक (1) सपना (1) सफेदपोश (1) सरगम (1) सागर (1) साजन (1) सावन (1) सोरठा (1) स्वराज करुण (1) स्वाति (1) हरियाली (1) हल (1) हवेली (1) हुक्का (1)