शिल्पकार. Blogger द्वारा संचालित.

चेतावनी

इस ब्लॉग के सारे लेखों पर अधिकार सुरक्षित हैं इस ब्लॉग की सामग्री की किसी भी अन्य ब्लॉग, समाचार पत्र, वेबसाईट पर प्रकाशित एवं प्रचारित करते वक्त लेखक का नाम एवं लिंक देना जरुरी हैं.
रफ़्तार
स्वागत है आपका

गुगल बाबा

इंडी ब्लागर

 

शिल्पकार के मुख से

साथियों
काफी दिनों से सफर में होने के कारण आपको पत्र नही लिख सका, लोकसभा के चुनाव थे, परिणाम कांग्रेस के पक्ष में आए। अब वर्तमान मनमोहन सरकार से हमे काफी उम्मीदें हैं हमारे शिल्पकार समाज को जो आजादी के ६० बरसों में नही मिल पाया उसे हमे इन पञ्च सालों में हासिल करना है। आपकी प्रतिक्रियाएं आमंत्रित है। आर्तिसन वेलफेयर ओर्गेनैजेशन का रास्ट्रीय सम्मलेन नागपुर में ११-१२ जुलाइ को रखा गया है। पूर्ण जानकारी अगले पत्र में होगी।
आपका
शिल्पकार
ललित शर्मा

Comments :

8 टिप्पणियाँ to “शिल्पकार के मुख से”
गिरिजेश राव, Girijesh Rao ने कहा…
on 

सम्भवत: आप पहले व्यक्ति हैं जिसने हिन्दी ब्लॉग पर अपने को शिल्पकार घोषित किया है।

स्वागत है निर्माण के कर्मी।

एक अनुरोध - word verification रखा हो तो हटा दें।

Unknown ने कहा…
on 

भाई पहले जरा इस शिल्पकार शब्द से आपका तात्पर्य समझा दीजिए.
भ्रम ना रहे।

स्वागत है...

बेनामी ने कहा…
on 

शुभकामनाएं...

गोविंद गोयल, श्रीगंगानगर ने कहा…
on 

naryan narayan

इस्लामिक वेबदुनिया ने कहा…
on 

आपने अच्छा मुद्दा उठाया है

alka mishra ने कहा…
on 

प्रिय बन्धु
जय हिंद
हे शिल्पी मेरे देश को नये तरीके से गढ़ने में मेरी मदद करो
अगर आप अपने अन्नदाता किसानों और धरती माँ का कर्ज उतारना चाहते हैं तो कृपया मेरासमस्त पर पधारिये और जानकारियों का खुद भी लाभ उठाएं तथा किसानों एवं रोगियों को भी लाभान्वित करें

Kavyadhara ने कहा…
on 

जब भी कोई बात डंके पे कही जाती है
न जाने क्यों ज़माने को अख़र जाती है ।

झूठ कहते हैं तो मुज़रिम करार देते हैं
सच कहते हैं तो बगा़वत कि बू आती है ।

फर्क कुछ भी नहीं अमीरी और ग़रीबी में
अमीरी रोती है ग़रीबी मुस्कुराती है ।

अम्मा ! मुझे चाँद नही बस एक रोटी चाहिऐ
बिटिया ग़रीब की रह – रहकर बुदबुदाती है

‘दीपक’ सो गई फुटपाथ पर थककर मेहनत
इधर नींद कि खा़तिर हवेली छ्टपटाती है ।
@Kavi Deepak Sharma
http://www.kavideepaksharma.co.in

http://www.kavideepakharma.com

http://shayardeepaksharma.blogspot.com

संगीता पुरी ने कहा…
on 

बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

 

लोकप्रिय पोस्ट

पोस्ट गणना

FeedBurner FeedCount

यहाँ भी हैं

ईंडी ब्लागर

लेबल

शिल्पकार (94) कविता (65) ललित शर्मा (56) गीत (8) होली (7) -ललित शर्मा (5) अभनपुर (5) ग़ज़ल (4) माँ (4) रामेश्वर शर्मा (4) गजल (3) गर्भपात (2) जंवारा (2) जसगीत (2) ठाकुर जगमोहन सिंह (2) पवन दीवान (2) मुखौटा (2) विश्वकर्मा (2) सुबह (2) हंसा (2) अपने (1) अभी (1) अम्बर का आशीष (1) अरुण राय (1) आँचल (1) आत्मा (1) इंतजार (1) इतिहास (1) इलाज (1) ओ महाकाल (1) कठपुतली (1) कातिल (1) कार्ड (1) काला (1) किसान (1) कुंडलियाँ (1) कुत्ता (1) कफ़न (1) खुश (1) खून (1) गिरीश पंकज (1) गुलाब (1) चंदा (1) चाँद (1) चिडिया (1) चित्र (1) चिमनियों (1) चौराहे (1) छत्तीसगढ़ (1) छाले (1) जंगल (1) जगत (1) जन्मदिन (1) डोली (1) ताऊ शेखावाटी (1) दरबानी (1) दर्द (1) दीपक (1) धरती. (1) नरक चौदस (1) नरेश (1) नागिन (1) निर्माता (1) पतझड़ (1) परदेशी (1) पराकाष्ठा (1) पानी (1) पैगाम (1) प्रणय (1) प्रहरी (1) प्रियतम (1) फाग (1) बटेऊ (1) बाबुल (1) भजन (1) भाषण (1) भूखे (1) भेडिया (1) मन (1) महल (1) महाविनाश (1) माणिक (1) मातृशक्ति (1) माया (1) मीत (1) मुक्तक (1) मृत्यु (1) योगेन्द्र मौदगिल (1) रविकुमार (1) राजस्थानी (1) रातरानी (1) रिंद (1) रोटियां (1) लूट (1) लोकशाही (1) वाणी (1) शहरी (1) शहरीपन (1) शिल्पकार 100 पोस्ट (1) सजना (1) सजनी (1) सज्जनाष्टक (1) सपना (1) सफेदपोश (1) सरगम (1) सागर (1) साजन (1) सावन (1) सोरठा (1) स्वराज करुण (1) स्वाति (1) हरियाली (1) हल (1) हवेली (1) हुक्का (1)
hit counter for blogger
www.hamarivani.com