शिल्पकार. Blogger द्वारा संचालित.

चेतावनी

इस ब्लॉग के सारे लेखों पर अधिकार सुरक्षित हैं इस ब्लॉग की सामग्री की किसी भी अन्य ब्लॉग, समाचार पत्र, वेबसाईट पर प्रकाशित एवं प्रचारित करते वक्त लेखक का नाम एवं लिंक देना जरुरी हैं.
रफ़्तार
स्वागत है आपका

गुगल बाबा

इंडी ब्लागर

 

तड़-तड़ तड़-तड़

आज  मै 
एक अरसे बाद
फिर उस गली से
हो कर गुजरा
जहाँ हुआ करती थी
रात-रानी के 
फूलों की मधुर महक
चम्पा के फूलों की
खुशबु से भरी सुबह
मगर वह खुशबु 
आज मुझे नहीं मिली
बारूद की गंध 
उड़ रही थी फिजा में 
तड़-तड़ तड़-तड़ 
गोलियों की आवाज 
के बीच 
कहीं खो गई थी 
वह गली 
मासूमों का खून 
बहाती वह सुबह
जिन्हें पता ही नहीं था
मौत कहाँ से आ गई?
खून से रंगी हुयी सड़क
मौत के तांडव की कहानी
कह रही थी
मुझे लगा की पुरानी
गली कहीं खो गई है
ठीक हमारी 
सुरक्षा के 
ठेकेदारों की तरह
उसकी जगह नई 
गली आ गई है
नेपाली गोरखों की 
पनाह लिए
सिर्फ "जागते रहो"
सुनने के लिए 
कब तक हम 
इनके भरोसे
सोते-सोते 
जागते रहेंगे
सिर्फ" जागते रहो"
के सहारे


आपका 
शिल्पकार 


Comments :

12 टिप्पणियाँ to “तड़-तड़ तड़-तड़”
पी.सी.गोदियाल "परचेत" ने कहा…
on 

जागना ही पड़ेगा ललित साहब, अब तो वे जागते रहो भी नहीं बोलते सिर्फ सेती बजाते है और डंडा जमी पर मारते है ! अच्छी कविता !

Khushdeep Sehgal ने कहा…
on 

ललित भाई,
हम सब कर भी क्या सकते हैं...और सरकार भी इंतज़ार करती है कि कब अगला हमला हो और वो पाकिस्तान से सारे संबंध तोड़ लेने जैसे बयान दे...और थोड़े दिन बाद क्या...वही ढाक के तीन पात...

जय हिंद...

सदा ने कहा…
on 

बेहतरीन अभिव्‍यक्ति ।

निर्मला कपिला ने कहा…
on 

कब तक हम
इनके भरोसे
सोते-सोते
जागते रहेंगे
सिर्फ" जागते रहो"
के सहारे
बहुत सुन्दर आज के दिन पर सटीक अभिव्यक्ति शुभकामनायें

ताऊ रामपुरिया ने कहा…
on 

बहुत सटीक रचना. शुभकामनाएं.

रामराम.

Sudhir (सुधीर) ने कहा…
on 

कब तक हम
इनके भरोसे
सोते-सोते
जागते रहेंगे
सिर्फ" जागते रहो"
के सहारे

बड़ी गहरी बात...

Udan Tashtari ने कहा…
on 

इनके भरोसे
सोते-सोते
जागते रहेंगे
सिर्फ" जागते रहो"
के सहारे


-बिल्कुल सही कहा!

राजीव तनेजा ने कहा…
on 

चैन से सोना है तो जाग जाईए...

समयानुकूल रचना

GK Khoj ने कहा…
on 

HDMI Full Fom
BCC Full Form
PC in Hindi
HDMI in Hindi
Blu-ray in Hindi
Megapixel in Hind
Graphic Card in Hindi

GK Khoj ने कहा…
on 

Flowchart in Hindi
Algorithm in Hindi
LED in Hindi
Whatsapp in Hindi
GPU in Hindi

GK Khoj ने कहा…
on 

System Restor in Hindi
Mechanical Keyboard in Hindi
Fuchsia in Hindi
Fingerprint Scanners in Hindi
Blockchain in Hindi

GK Khoj ने कहा…
on 

SSL in Hindi
Tagging Meaning In Hindi
Full Form Of Computer
Interpreter in Hindi
Gigabyte in Hindi
SIM Card in Hindi
Web Hosting in Hindi
Cache Memory in Hindi
Compile Meaning In Hindi
Xbox in Hindi

 

लोकप्रिय पोस्ट

पोस्ट गणना

FeedBurner FeedCount

यहाँ भी हैं

ईंडी ब्लागर

लेबल

शिल्पकार (94) कविता (65) ललित शर्मा (56) गीत (8) होली (7) -ललित शर्मा (5) अभनपुर (5) ग़ज़ल (4) माँ (4) रामेश्वर शर्मा (4) गजल (3) गर्भपात (2) जंवारा (2) जसगीत (2) ठाकुर जगमोहन सिंह (2) पवन दीवान (2) मुखौटा (2) विश्वकर्मा (2) सुबह (2) हंसा (2) अपने (1) अभी (1) अम्बर का आशीष (1) अरुण राय (1) आँचल (1) आत्मा (1) इंतजार (1) इतिहास (1) इलाज (1) ओ महाकाल (1) कठपुतली (1) कातिल (1) कार्ड (1) काला (1) किसान (1) कुंडलियाँ (1) कुत्ता (1) कफ़न (1) खुश (1) खून (1) गिरीश पंकज (1) गुलाब (1) चंदा (1) चाँद (1) चिडिया (1) चित्र (1) चिमनियों (1) चौराहे (1) छत्तीसगढ़ (1) छाले (1) जंगल (1) जगत (1) जन्मदिन (1) डोली (1) ताऊ शेखावाटी (1) दरबानी (1) दर्द (1) दीपक (1) धरती. (1) नरक चौदस (1) नरेश (1) नागिन (1) निर्माता (1) पतझड़ (1) परदेशी (1) पराकाष्ठा (1) पानी (1) पैगाम (1) प्रणय (1) प्रहरी (1) प्रियतम (1) फाग (1) बटेऊ (1) बाबुल (1) भजन (1) भाषण (1) भूखे (1) भेडिया (1) मन (1) महल (1) महाविनाश (1) माणिक (1) मातृशक्ति (1) माया (1) मीत (1) मुक्तक (1) मृत्यु (1) योगेन्द्र मौदगिल (1) रविकुमार (1) राजस्थानी (1) रातरानी (1) रिंद (1) रोटियां (1) लूट (1) लोकशाही (1) वाणी (1) शहरी (1) शहरीपन (1) शिल्पकार 100 पोस्ट (1) सजना (1) सजनी (1) सज्जनाष्टक (1) सपना (1) सफेदपोश (1) सरगम (1) सागर (1) साजन (1) सावन (1) सोरठा (1) स्वराज करुण (1) स्वाति (1) हरियाली (1) हल (1) हवेली (1) हुक्का (1)
hit counter for blogger
www.hamarivani.com