शिल्पकार. Blogger द्वारा संचालित.

चेतावनी

इस ब्लॉग के सारे लेखों पर अधिकार सुरक्षित हैं इस ब्लॉग की सामग्री की किसी भी अन्य ब्लॉग, समाचार पत्र, वेबसाईट पर प्रकाशित एवं प्रचारित करते वक्त लेखक का नाम एवं लिंक देना जरुरी हैं.
रफ़्तार
स्वागत है आपका

गुगल बाबा

इंडी ब्लागर

 

ये तुम हो...?


Comments :

11 टिप्पणियाँ to “ये तुम हो...?”
संगीता पुरी ने कहा…
on 

बढिया है ..
छोटी सी .. अहसास भरी .;
बधाई !!

संगीता पुरी ने कहा…
on 

बढिया है ..
छोटी सी .. अहसास भरी .;

Gyan Darpan ने कहा…
on 

शानदार

Gyan Darpan
..

Rahul Singh ने कहा…
on 

खूब गढ़ा है.

संध्या शर्मा ने कहा…
on 

तुम नहीं तुम्हारा अहसास ही सही
पास नहीं आसपास ही सही...
बहुत खूबसूरत समर्पण भरे अहसास... शुभकामनाये

Anupama Tripathi ने कहा…
on 

दर्द छुपा है इस शिल्प में ...
सुंदर रचना ...

वाणी गीत ने कहा…
on 

सच यादें ही अच्छी !

अजय कुमार झा ने कहा…
on 

तुमसे तो तुम्हारी याद ही अच्छी है ,
उफ़्फ़ जो ये कह दी आपने बात ही अच्छी है ..


शिल्पकार को हमारा अभिवादन

vandan gupta ने कहा…
on 

वाह सच मे याद ही अच्छी होती है कम से कम आस पास तो होती है।

चंद्रमौलेश्वर प्रसाद ने कहा…
on 

कविता का रूप देखकर लगता है वो ‘अंटिला’ में छुपी है :)

Girish Billore Mukul ने कहा…
on 

जी ये हम ही हैं..
बहुत खूबसूरत शर्मा जी वाह......

 

लोकप्रिय पोस्ट

पोस्ट गणना

FeedBurner FeedCount

यहाँ भी हैं

ईंडी ब्लागर

लेबल

शिल्पकार (94) कविता (65) ललित शर्मा (56) गीत (8) होली (7) -ललित शर्मा (5) अभनपुर (5) ग़ज़ल (4) माँ (4) रामेश्वर शर्मा (4) गजल (3) गर्भपात (2) जंवारा (2) जसगीत (2) ठाकुर जगमोहन सिंह (2) पवन दीवान (2) मुखौटा (2) विश्वकर्मा (2) सुबह (2) हंसा (2) अपने (1) अभी (1) अम्बर का आशीष (1) अरुण राय (1) आँचल (1) आत्मा (1) इंतजार (1) इतिहास (1) इलाज (1) ओ महाकाल (1) कठपुतली (1) कातिल (1) कार्ड (1) काला (1) किसान (1) कुंडलियाँ (1) कुत्ता (1) कफ़न (1) खुश (1) खून (1) गिरीश पंकज (1) गुलाब (1) चंदा (1) चाँद (1) चिडिया (1) चित्र (1) चिमनियों (1) चौराहे (1) छत्तीसगढ़ (1) छाले (1) जंगल (1) जगत (1) जन्मदिन (1) डोली (1) ताऊ शेखावाटी (1) दरबानी (1) दर्द (1) दीपक (1) धरती. (1) नरक चौदस (1) नरेश (1) नागिन (1) निर्माता (1) पतझड़ (1) परदेशी (1) पराकाष्ठा (1) पानी (1) पैगाम (1) प्रणय (1) प्रहरी (1) प्रियतम (1) फाग (1) बटेऊ (1) बाबुल (1) भजन (1) भाषण (1) भूखे (1) भेडिया (1) मन (1) महल (1) महाविनाश (1) माणिक (1) मातृशक्ति (1) माया (1) मीत (1) मुक्तक (1) मृत्यु (1) योगेन्द्र मौदगिल (1) रविकुमार (1) राजस्थानी (1) रातरानी (1) रिंद (1) रोटियां (1) लूट (1) लोकशाही (1) वाणी (1) शहरी (1) शहरीपन (1) शिल्पकार 100 पोस्ट (1) सजना (1) सजनी (1) सज्जनाष्टक (1) सपना (1) सफेदपोश (1) सरगम (1) सागर (1) साजन (1) सावन (1) सोरठा (1) स्वराज करुण (1) स्वाति (1) हरियाली (1) हल (1) हवेली (1) हुक्का (1)
hit counter for blogger
www.hamarivani.com